ऋद्धिमान साहा ने कहा कि मैच जीतना हमारा उद्देश्य है

wriddhiman saha 60000

भारतीय टीम के सामने श्रीलंका को कमजोर माना जा रहा था, पर कोलकाता में पहले ही टेस्ट में अधिकांश सत्रों में श्रीलंकाई टीम का ही दबदबा रहा। अंतिम दिन भारतीय टीम ने वापसी करते जीत की उम्मीदें जगा दी थीं।

भारत और श्रीलंका के बीच शुक्रवार से शुरू होने वाले दूसरे टेस्ट मैच से पहले साहा ने कहा, “ऐसा नहीं है कि मैं हमेशा नंबर 7 (और नंबर 8) पर बल्लेबाजी करता हूं. मैंने नंबर 6 पर भी बल्लेबाजी की है.हम (रविचंद्रन अश्विन, रवींद्र जडेजा) विपक्षी टीम के गेंदबाजी आक्रमण के मुताबिक अपने नंबर बदलते रहते हैं.” श्रीलंका के खिलाफ कोलकाता में खेले गए पहले टेस्ट मैच में साहा एक पारी में नंबर सात और दूसरी पारी में नंबर आठ पर आए थे.

साहा विकेटकीपर बल्लेबाज हैं, जरूरत के समय रन भी बनाते हैं, उन्होंने कहा की उनका बल्लेबाजी क्रम तय नहीं रहता। साथ ही उन्‍होंने कहा, “परिस्थति के हिसाब से बल्लेबाजी क्रम का पता चलता है कि नंबर छह, सात, आठ किस नंबर पर बल्लेबाजी करनी है

पहले मैच में भारत जीत के करीब आकर ड्रॉ के लिए मजबूर हो गया था ऋद्धिमान साहा का मानना है कि अगर भारत के पास कुछ और ओवर होते तो वह मैच जीत लेता. उन्होंने कहा, “हमने दूसरी पारी में अच्छी बल्लेबाजी की थी. शिखर धवन और लोकेश राहुल तथा विराट कोहली ने बल्ले से अच्छा योगदान दिया था. जब आप विपक्षी टीम के सात बल्लेबाज 100 के अंदर आउट कर लेते हो तो इससे आपका मनोबल बढ़ जाता है.

कोलकाता में तेज गेंदबाजों के मददगार विकेट के बाद नागपुर के विकेट पर सभी की निगाहे हैं। साहा ने कहा कि मैंने पिच नहीं देखी है। पिच स्पिनरों के मददगार हो या तेज गेंदबाजों के, यदि श्रीलंका पहले बल्लेबाजी करता है तो उसके विकेट लेना हमारा काम है, ताकि मैच जीतें। मैच जीतना हमारा उद्देश्य है। पिछले टेस्ट का परिणाम दिमाग में है, पर हम वर्तमान पर ध्यान केंद्रित कर रहे हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *