रेवरी लैंग्वेज टेक्नोलॉजीज ने इंडिक कैलेंडर ऐप में जोड़ा पंचाग

calender

बेंगलुरु इंडिया, मंगलवार, नवंबर 21 – रेवरी लैंग्वेज टेक्नोलॉजीज ने एक इंडिक कैलेंडर ऐप तैयार किया है। इंडिक कैलेंडर ऐप गूगल प्ले स्टोर पर उपलब्ध है, जिसको भारतीय भाषा की प्रवीणता, सांस्कृतिक और धार्मिक जुड़ाव को ध्यान में रखते हुए बनाया गया है ।

यह ऐप 11 भारतीय भाषाओं में उपलब्ध है । वो भाषाएं इस प्रकार है – हिंदी, बंगाली, तेलुगू, असमिया, मराठी, तमिल, गुजराती, कन्नड़, मलयालम, ओडिया और पंजाबी।

इंडिक कैलेंडर ऐप में चंद्र कैलेंडर को भी जोड़ा गया है। इस कदम से 29 राज्यों के हिंदू त्योहारों से संबंधित शुभ अवसरों की जानकारी चंद्र कैलेंडर की मदद से अपने हाथों पर हासिल कर सकते है। असल में, कैलेंडर पंचांगों के आधार पर जैसे तिथि, नक्षत्र और राशि की जानकारी को मुहैया कराता है साथ में, निश्चित दिन के लिए सूर्योदय और सूर्यास्त का भी समय दिखाता है ।

जैसे की देखा गया है कि भारतीयों के जीवन में महत्वपूर्ण फैसलों के लिए शुभ तिथि और नक्षत्रों के लिए पंचांग का अध्ययन किया जाता हैं। वो फैसलें जैसे कि कहीं यात्रा के लिए, एक नए व्यवसाय या परीक्षा और इटरव्यू में भाग लेने जैसे होते हैं और अन्य जीवन के महत्वपूर्ण अवसरों को भी शामिल किया जा सकता हैं।

एक बार डाउनलोड करने पर इंडिक कैलेंडर का उपयोग करना आसान है, उपयोगकर्ता को राज्य के आधार पर शुभ तिथियों और त्योहारों की सूचना उपलब्ध है। एक समय में उपयोगकर्ता लगातार तीन वर्षों मतलब पिछले, वर्तमान और अगले वर्ष की तिथियों की सूचना प्राप्त कर सकता है ।

रेवरी लैंग्वेज टैक्नोलॉजीज के सीईओ और सह-संस्थापक अरविंद पानई ने कहा, “रेवरी के इंडिक कैलेंडर ऐप के जरिए कभी भी, कहीं भी आप पंचागों से जानकारी प्राप्त कर सकते है इंडिक कैलेंडर उन लोगों को ध्यान में रखकर बनाया है जो जगन्नाथ पुरी में रथ यात्रा के लिए या ओणम, अक्षयत्री, दिवाली, बिहू और अन्य भारतीय त्योहारों और शुभ दिनों की तारीखों के इंतजार में रहते है और तलाश में जूटे रहते हैं। ”

यह ऐप गूगल स्टोर पर निःशुल्क उपलब्ध है। रेवरी का इंडिक कैलेंडर ऐप साइज केवल 1.34 एमबी है, जो कि उपयोगकर्ता इंटरफ़ेस के अनुकूल है।

रेवरी लैंग्वेज टेक्नोलॉजीज के बारे में:

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और नीति आयोग के “चैंपियन ऑफ चेंज” के लिए रेवरी लैंग्वेज टेक्नोलॉजीज एकमात्र सूचीबद्ध प्रौद्योगिकी कंपनी है।

रेवरी लैंग्वेज टेक्नोलॉजीज का मानना है कि इंटरनेट पर भाषाई समानता को बढ़ावा दिया जाना जरुरी है। इस कंपनी की नींव 2009 में अरविंद पानई, विवेक पानई और एस.के. मोहंती के द्वारा रखी गई थी , और एक मजबूत आर एंड डी प्रौद्योगिकी टीम के नेतृत्व का उदाहरण है, जो डिजिटल दुनिया में भाषाई विभाजन को पाटने के लिए ऐप्स और नई तकनीको का निर्माण करती है। यह कंपनी नामी ओईएम और चिपसेट निर्माताओं, उद्यमों (उपभोक्ता इंटरनेट) और डेवलपर कंपनियों के साथ भी काम करती है।

रेवरी क्लाउड प्लेटफॉर्म जैसी स्थानीयकरण की सेवाएं प्रदान करती है जैसे कि स्थानीय-भाषाओं का अनुवाद, ट्रांसलिट्रेशन, डिवाइस इनपुट, और एपीआई के माध्यम से खोज करना शामिल है। यह प्लेटफॉर्म बुनियादी ढांचे (वेबसाइट और ऐप) के साथ जुडा हुआ है ताकि अंतिम उपयोगकर्ताओं को वास्तविक समय में डिजिटल भाषाओं को अपनी पसंदीदा भाषा में उपभोग कर सकें।

रेवरी लाखों उपकरणों जैसे ऑनलाइन खुदरा, ई-कॉमर्स बाजारों, यात्रा, मीडिया और मनोरंजन, बैंकों और वित्तीय सेवाओं, ई-शासन को सेवा प्रदान करता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *