कोहली ने 50वां अंतर्राष्‍ट्रीय शतक बनाया

भारत और श्रीलंका के बीच कोलकाता में खेला गया पहला टेस्‍ट ड्रा रहा। इस मैच में भारतीय कप्‍तान विराट कोहली ने करियर का 50वां शतक जड़कर नया इतिहास रच दिया। उनसे पहले यह कारनामा सिर्फ सचिन तेंदुलकर ने किया था।

Virat Kohli

कोलकाता के ईडन गार्डन में खेला गया पहला टेस्‍ट तो ड्रा रहा, भारतीय कप्‍तान विराट कोहली के लिए यह मैदान यादगार बन गया। कई रिकॉर्ड जरूर बन गए।

कोहली ने यहां अपना 50वां अंतर्राष्‍ट्रीय शतक लगाया। ऐसा करने वाले वह दुनिया के आठवें और भारत के दूसरे बल्‍लेबाज बन गए हैं। सबसे मजेदार बात यह है कि कोहली से पहले जितने भी खिलाड़ियों ने 50 या उससे ज्‍यादा शतक लगाए हैं, सभी रिटायर हो चुके सिर्फ हाशिम अमला को छोड़कर। अब जो रेस बची है वह कोहली और अमला के बीच है।

अब यह तो आप जानते ही हैं कि कोहली और हाशिम अमला के बीच कई मामलों में रेस चल रही है. कभी हाशिम अमला आगे निकल जाते हैं, तो कभी कोहली उन पर भारी पड़ जाते हैं.

सोमवार को भी एक ऐसी ही रेस में विराट, हमला को मात देने से बाल-बाल चूक गए और अब यह मौका विराट को को दोबारा नहीं मिलेगा क्योंकि अब यह इतिहास के पन्नों में दर्ज हो चुका है. फिर से ध्यान दिला दें कि कोहली ने सोमवार को टेस्ट करियर का 18वां टेस्ट शतक जड़ने के साथ ही अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में अपना 50वां शतक जड़ा था.

इंटरनेशनल मैचों (टेस्‍ट, वनडे और टी-20 मिलाकर) में शतकों का शतक सिर्फ एक बल्‍लेबाज ने लगाया है, वो हैं सचिन तेंदुलकर। सचिन ने टेस्‍ट में 51 और वनडे में 49 शतक अपने नाम किए हैं। हालांकि कोहली को यहां तक पहुंचने में अभी वक्‍त है

कोहली और अमला दोनों ने 348वीं पारी में यह कारनामा किया, जबकि सचिन को 50 शतक लगाने के लिए 376 पारी खेलनी पड़ी थी।

कुल शतकों के मामले में सचिन तेंदुलकर कप्‍तान कोहली से काफी आगे हैं, लेकिन कोहली तेजी से सचिन के रिकॉर्ड का पीछा कर रहे हैं। कोहली का बल्‍ला लगभग हर मैच में चलता है और वह रिकॉर्ड पर रिकॉर्ड बनाए जा रहे। इंटरनेशनल मैचों में जहां कोहली को 50 शतक लगाने में 348 पारियां लगीं, वहीं सचिन ने 376 पारियां खेलीं थीं।

50 शतक तक पहुंचने में विराट कोहली को नौ साल लगे। कोहली ने सन 2008 में अंतर्रराष्‍ट्रीय क्रिकेट में कदम रखा था और 9 साल में उन्‍होंने 50वां शतक लगाया। कोहली ने श्रीलंका के खिलाफ वनडे में अपने करियर का पहला शतक जमाया था। वहीं सचिन के रिकॉर्ड की बात करें तो तेंदुलकर ने 1989 में डेब्‍यू किया और एक साल बाद अपना पहला शतक जड़ा, जबकि 50 शतक तक पहुंचने में सचिन को 11 साल लग गए। तेंदुलकर ने सन 2000 में अपना 50वां शतक पूरा किया।

इंटरनेशनल करियर में 50 शतक तक पहुंचने में कोहली की उम्र सचिन से ज्‍यादा हो गई। कोहली की मौजूदा उम्र 29 साल है, जबकि सचिन ने अपना 50वां शतक 27 साल की उम्र में जड़ दिया था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *