हौसला 2017 का आयोजन करेगा बाल विकास मंत्रालय

महिला एवं बाल विकास मंत्रालय 16 से 20 नवंबर, 2017 तक बाल अधिकार सप्ताह (हौसला 2017) का मनाएगा। देश 14 नवंबर को बाल दिवस के रूप में मनाता है और प्रत्येक वर्ष अन्तर्राष्ट्रीय बाल अधिकार दिवस 20 नवंबर को मनाया जाता है। महिला एवं बाल विकास मंत्रालय द्वारा बाल अधिकार सप्ताह का आयोजन, इन दो महत्वपूर्ण कार्यक्रमों के बीच की अवधि पर, बाल देखभाल संस्थानों (सीसीआई) में रह रहे बच्चों के लिए अन्तर्र बाल देखभाल संस्थान पर्व के आयोजन की मेजबानी से होगा।

यह पर्व “हौसला 2017” देश के विभिन्न बाल देखभाल संस्थाओं के बच्चों द्वारा प्रतिभा को देखाने और उन्हें  अपने सपने और अरमानों दर्शने का अवसर प्रदान करेगा। बच्चों द्वारा विभिन्न कार्यक्रमों जैसे बाल संसद चित्रकला प्रतियोगिता, एथलेटिक मीट , फुटबाल, शतंरज प्रतियोगिता और वाक लेखन में भाग लिया जाएगा इस अवसर पर निम्न कार्यक्रमों का आयोजन किया जाएगाः

1- 16 नवंबर को बाल संसदः राष्ट्रीय बाल नीति 2013 और किशोर न्याय (बाल देखभाल और संरक्षण) अधिनियम 2015 उन विषयों पर बाल प्रतिभागिता को दर्शाता है जो उन्हें प्रभावित करते हैं। बच्चों को अपने विचार दर्शाने का और विभिन्न स्तरों पर संबंधित विषयों पर निर्णय लेने का अधिकार है वे आज के नागरिक है और आज एवं भविष्य में अग्रणी तौर पर कार्य  कर सकते है। इन्हीं बातों को ध्यान में रखते हुए बाल संसद का आयोजन किया जाएगा। जिसमें सभी राज्यों/केन्द्र शासित प्रदेशों के बाल देखभाल संस्थानों के बच्चे प्रतिभागी होगें। इस कार्यक्रम में सभी राज्यों/केन्द्र शासित प्रदेशों से 14 से 18 आयु वर्ग के कुल 36 बच्चे भाग लेगें। 15 सितंबर 2017 की दोपहर को बच्चों की आवश्यकताओं ओर अधिकारों पर एनआईपीसीसीडी में अनुकूलन कार्यशाला का आयोजन किया जाएगा। बच्चों को उन्हें प्रभावित करने वाले विषयों से संबंधित अधिकारों को जानने के और सुझाव देने के लिए तैयार किया जाएगा। इस बाल संसद का आयोजन 16 नवंबर 2017 को दिल्ली के सीएसओआई में किया जाएगा।

बच्चों द्वारा किये गये विचार-विमर्श और सुझावों के सारांश को बाद में संबंधित मंत्रालय और भारत सरकार के विभागों को भेजा जा सकता है।

2- 16 नंवबर 2017 को चित्रकला प्रतियोगिताः बच्चे आमतौर पर स्वंय को व्यक्त करने के लिए विभिन्न तरीकों का इस्तेमाल करते हैं। चित्रकला और चित्रकारी दो सशक्त उपकरण हैं जो बच्चों के संचार कौशल को बढ़ाने के लिए प्रयोग किया जाता है। 17 नवंबर,2017 को महिला एवं बाल विकास मंत्रालय द्वारा इसी  पृष्ठ भूमि पर चित्रकला प्रतियोगिता का आयोजन पूरे देश के बाल देखभाल के संस्थानों के 36 चुने हुए बच्चों के लिए सीएसओआई में किया जाएगा। बच्चो द्वारा बनाई गई चित्रकलाओं का चयन तीन न्यायधीशो के पैनल द्वारा किया जाएगा।

3- 19-20 नवंबर, 2017 को एथलेटिक्स मीट, शतंरज प्रतियोगिता और फुटबाल मैचः इस अवसर मंत्रालय द्वारा एथलेटिक्स मीट का आयोजन (100 मीटर दौड़,100*4 मीटर रीले दौड़, लम्बी कूद, ऊंची कूद), शतरंज प्रतियोगिता और सीसीआई के बालक एवं बालिकाओं के फुटबाल  मैच का आयोजन दिल्ली के त्यागराज स्टेडियम में किया जा रहा है।

बच्चों को प्रोतसाहित करने के लिए 20 नवंबर 2017 को होने वाले पुरस्कार वितरण समारोह में श्री वीरेंद्र सहवाग (क्रिकेटर), श्री गौतम गंभीर (क्रिकेटर), और सुश्री मिथली राज (क्रिकेटर), को आमंत्रित किया गया है।

4- वाक लेखनः सभी राज्यों/केन्द्र शासित प्रदेशो से अनुरोध किया गया है कि वे सीसीआई के बच्चों के लिए वाक लेखन प्रतियोगिताओं का आयोजन करे। पहले तीन लेखनों को मंत्रालय में भेजा जाएगा और लेखनों का संकलन यूनीसेफ के सहयोग से, मंत्रालय द्वारा एक पुस्तिका के रूप में प्रकाशित किया जाएगा। 20 नवंबर 2017 को समापन समारोह के दौरान पुस्तिका का विमोचन किया जाएगा।

5- 20 नवंबर 2017 को समापन समारोहः बाल अधिकारों का सप्ताह भर के जश्न का समापन समारोह के माध्यम से 20 नवंबर की शाम को प्रवासी भारतीय केंद्र, चाणक्यपुरी नई दिल्ली में आयोजित किया जाएगा।

सड़क के बच्चों की समाचार पत्रिका ‘बालकनामा के पत्रकार इस पूरे कार्यक्रम की कवरेज़ करेगें और इसे इस पत्रिका में मंत्रालय की स्वीकृति के साथ प्रकाशित करेगें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *