गोवाहाटी से रांची का फर्जी चालान लेकर की जा रही थी शराब की तस्करी

[embedyt] https://www.youtube.com/watch?v=MT3PjN7Jq8M[/embedyt]

शुक्रवार को सिकंदरा पुलिस द्वारा शराब की बड़ी खेप पकड़े जाने को लेकर शनिवार को एसडीपीओ मो. नेसार अहमद शाह ने सिकंदरा थाना परिसर में प्रेस कांफ्रेंस कर शरात तस्करी की जानकारी दी साथ ही सिकंदरा पुलिस को इस बड़ी खेप को पकड़ने को लेकर धन्यवाद देते हुए कहा कि शुक्रवार को भारी मात्रा में गुप्त सूचना के आधार पर विदेशी शराब की खेफ पकड़ने में सिकंदरा पुलिस ने बड़ी उपलब्धि हासिल की इसके लिए थाना प्रभारी वीरभद्र कुमार सिंह धन्यवाद के पात्र हैं। एनएच 333ए पर बिछवे मोड़ के समीप से विदेशी शराब से भरे एक ट्रक को शुक्रवार को जब्त किया गया था। ट्रक पर शराब को ढकने के लिए सब्जी का इस्तमाल किया गया था। फर्जी चालान से हो रही थी शराब की तस्करी जिस ट्रक को पकड़ा गया उस ट्रक चालक के पास जो चालान था वह फर्जी था।27 मार्च को बनाया गया यह चालान गोवाहाटी से रांची का था। पूछताछ के क्रम में यह खुलासा हुआ कि इसका मुख्य माफिया बिहार शरीफ के रमाकांत सिंह और बरबीघा के बीरमनी सिंह बताया जाता है। इस ट्रक काे चला रहा चालक जम्मू के लुधियाना का निवासी सचिन कुमार पूर्व में भी जेल जा चुका है। और इस ने बताया कि पहले का ट्रक ड्राइवर हमारा मित्र था जो हमको गोवाहाटी से सिलीगुड़ी बुलाया और उसने बताया कि हमारी पत्नी का डिलीवरी है तुम इस गाड़ी को बिहार छोड़ दो जिसको मैं सिलीगुड़ी से लेकर आया और बरोनी में कुंदन राम को ट्रक पर चढ़ाया गया।पकड़े गए आरोपी ने कहा पहले भी हो चुकी है तस्करी। इस व्यवसाय में लिप्त बरबीघा थाना के बभनबीघा निवासी कुंदन राम ने पुलिसिया पूछताछ में यह खुलासा किया कि इस कारोबार में लिप्त रहकर पहले भी दो तीन बार हम कर चुके हैं। डीएसपी नेसार अहमद शाह ने बताया कि टोटल शराब लगभग 3500 लीटर है। और कॉल डिटेल के जरिए दो-तीन दिन में इस कारोबार में जिस जिस की संलिप्तता है उस पर कार्रवाई की जाएगी। प्रेस कॉन्फ्रेंस में मौजूद आरक्षी निरीक्षक जयशंकर मिश्रा, थाना प्रभारी वीरभद्र कुमार सिंह, सब इंस्पेक्टर सुबोध कुमार, हरि नंदन पासवान और टाइगर मोबाइल के जवान मौजूद थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *