फिल्म ‘पद्मावती’ को लेकर अमिताभ बच्चन, शाहरुख और आमिर चुप क्यों

103944000

संजय लीला भंसाली की फिल्म ‘पद्मावती’ पर विवाद दिन पर दिन विवाद बढ़ते ही चले जा रहे है करणी सेना, कई समुदाए और नेताओं के बयानबाजी के बाद फिल्म की रिलीज को स्थागित कर दिया गया. जैसे ही फिल्म रिलीज टलने की खबर सामने आई, बॉलीवुड इंडस्ट्री के लोगों ने इसका विरोध करते हुए भंसाली का समर्थन किया. कमल हासन, ट्विंकल खन्ना, सोनम कपूर, अर्जुन कपूर समेत कई सेलेब्स इस मुद्दे पर भंसाली का सपोर्ट कर चुके हैं. लेकिन अमिताभ बच्चन, शाहरुख खान, आमिर खान जैसे सुपरस्टार्स ने इस मामले पर चुप्पी साध रखी है. अभिनेता-राजनेता शत्रुघ्न सिन्हा ने फिल्म ‘पद्मावती’ के विवाद पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और अमिताभ बच्चन की चुप्पी पर सवाल उठाया है.

“चूंकि ‘पद्मावती’ एक ज्वलंत मुद्दा बन गया है, लोग पूछ रहे हैं कि महान अभिनेता अमिताभ बच्चन, सबसे बहुमुखी अभिनेता आमिर खान और सबसे लोकप्रिय अभिनेता शाहरुख खान की इस पर कोई टिप्पणी क्यों नहीं आई है
शत्रुघन ने बुधवार को ट्वीट किया, और हमारे सूचना प्रसारण मंत्री और हमारे सबसे लोकप्रिय माननीय प्रधानमंत्री (पीईडब्ल्यू के अनुसार-अमेरिकन थिंक टैंक पीईडब्ल्यू पोल) इस पर चुप्पी क्यों साधे हुए हैं.

उन्होंने यह भी कहा कि वह फिल्म निर्माता भंसाली के हितों और राजपूतों की संवेदनशीलता को ध्यान में रखते हुए ही इस विवाद के बारे में बात करेंगे. शत्रुघ्न ने कहा, “जहां तक मेरा सवाल है, मुझे महान फिल्म निर्माता संजय लीला भंसाली के बोलने के बाद ही ‘पद्मावती’ के मुद्दे पर बात करनी चाहिए. मैं फिल्मकारों के हितों के साथ ही महान राजपूतों की संवेदनशीलता, वीरता, वफादारी को ध्यान में रखकर ही बोलूंगा.

वहीं, विवादों के बीच एक भाजपा नेता ने भंसाली और दीपिका के सिर काटने वाले के लिए 10 करोड़ रुपये का इनाम देने की घोषणा की है.

भंसाली के अनुसार यह फिल्म राजपूत रानी पद्मावती की वीरता को श्रद्धांजलि है, जिनका किरदार दीपिका पादुकोण निभा रही हैं ‘पद्मावती’ में अभिनेता रणवीर सिंह दिल्ली के सुल्तान अलाउद्दीन खिलजी की भूमिका निभा रहे हैं.

ऐतिहासिक तथ्यों के साथ कथित तौर पर छेड़छाड़ के आरोप में रूढ़िवादी समूहों के विरोध के बाद फिल्म विवादों में घिरी है. फिल्म पहले 1 दिसंबर को रिलीज होने वाली थी, जिसे स्थगित कर दिया गया है क्योंकि फिल्म निर्माता को अभी तक सेंसर बोर्ड से प्रमाण पत्र नहीं मिला है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *