दुल्हन बनकर बरेली पहुंची पाकिस्तानी बेटी 

pakistani-du

बरेली -​किसी ने सच ही कहा है कि रिश्ते ऊपर से बनाये जाते है इंसानी लोग उसे सिर्फ उसे केवल असली जामा पहनाते है | बरेली शहर में इन दिनों एक शादी को लेकर खास चर्चा है दरसल बात यह है  कि बरेली के झगड़े बाली मठिया बिहारीपुर के रहने वाले मोहम्मद अलीशान की शादी पाकिस्तान के लाहौर शहर की रहने वाली अफसा शेख हुई है | अफशा शेख के वालिद  पाकिस्तान के प्रसिद्ध  इलेक्ट्रॉनिक व्यापारी है |  मिली जानकारी के अनुसार  दोनों ही परिवार देश की आजादी के बाद हुए बंटबारे के समय एक दूसरे से जुदा हो गए थे। दूल्हा मोहम्मद अलीशान वसीम के चाचा आसिम इम्तियाज ने मीडिया को बताया  हैं कि अफशा शेख उनके मामू अख्तर हुसैन की पोती हैं। हफ्जा की पढ़ाई लाहौर में हुई है। हफ्सा ने लाहौर से ग्रेजुएशन किया है। रिश्तों को एक बार से फिर जोड़ने के मकशद से पाकिस्तान जाना हुआ था तभी दोनों परिवार ने एक वार फिर सम्बन्धो को गहरा करने के लिए अलीशान और अफशा शेख के रिश्तों  को तय कर लिया गया था |

dulhan

हफ्सा का हमसफ़र मोहम्मद अलीशान  बरेली के डीडीपुरम में एक  जिम चलाते है साथ उनके पिता वसीम इम्तियाज़  भट्टे के कारोबारी  नाम से एक पहचान रखते है | हफ्शा और आलीशान का निकाह 11 दिसम्बर को मुस्लिम रीतिरिवाज से हुआ इस मौक को खास बनाने के लिए बरेली से 40 वाराती भी लाहौर शिरकत करने पहुंचे थे | आसिम बताते हैं कि जैसे ही कुछ बाराती रेल मार्ग से बाघा बार्डर पहुंचे तो सरहद पर दोनों मल्कों की फौज की मौजूदगी में दोनों परिवारों ने एक दूसरे का बेहद गर्मजोशी से स्वागत किया। दोनों तरफ से फूलों की बारिश हुई । इस दौरान नव विवाहित जोड़े को सैन्य अधिकारियों ने भी मुबारकबाद दी। वही दुल्हन बनकर बरेली  पहुंची अफशा शेख का कहना है कि  भारत का बहुत अच्छा मौहाल है वह भारत की बहू बनकर बेहद खुश है | पाकिस्तान और भारत के बीच राजनीतिक स्तर पर तल्खी तो है लेकिन उन्हें नहीं लगता लोगों के दिल में कोई फर्क है |

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *