बरेली पीएम मोदी की धन्यवाद रैली में शामिल होने पर महिला को तलाक तलाक़ तलाक़

 

fayra2@

यूपी के बरेली में एक महिला को पीएम मोदी की धन्यवाद रैली में जाना खासा महंगा साबित हुआ। उस रैली ने उसकी जिंदगी बर्बाद कर दी। महिला को उसके पति ने इस वजह से तलाक दे दिया क्योंकि वो पीएम मोदी की धन्यवाद रैली में गई थी। पीड़िता ने अब केंद्रीय मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी की बहन फ़रहत नक़वी से न्याय की गुहार लगाई है।

WhatsApp12

पहले उस नजारे को देखिए जिसमे मुश्लिम महिलाये पीएम मोदी के पक्ष धन्यवाद रैली निकाल रही है। और गुजरात मे पीएम मोदी को सपोर्ट करने के नारे भी लगा रही है। बस यही धन्यवाद रैली फ़ायरा की ज़िंदगी मे तबाही लेकर आ गई। दरअसल फ़ायरा दो दिन पहले केंद्रीय मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी की बहन फ़रहत नक़वी को धन्यवाद रैली में शामिल हुई थी। धन्यवाद रैली इसलिए निकाली गई थी क्योंकि शीतकालीन सत्र में मोदी सरकार 3 तलाक़ के खिलाफ सख्त कानून लेकर आ रही है। इसी खुशी में तलाक़ पीड़ित महिलाओं के साथ मुश्लीम महिलाये भी शामिल हुई थी। फ़ायरा भी रैली में शामिल होने के बाद जब अपने घर पहुची तो पति ने पूछा कहा गई थी। फ़ायरा ने जब पति दानिस को बताया की वो पीएम मोदी की धन्यवाद रैली में गई थी । इस बात से नाराज पति ने उसे तलाक़ तलाक़ तलाक़ कहकर एक साल के मासूम बेटे के साथ मारपीट कर घर से निकाल दिया।

fayra@

फ़ायरा का कहना है कि उसने किला के रहने वाले दानिस से डेढ़ साल पहले प्रेम विवाह किया था। शादी के बाद पता चला कि दानिस का अपनी मामी से अवैध संबंध है और उसका एक बेटा भी है। जिस वजह से दोनों में आये दिन कलेश होने लगा। और आज जब उसे मौका मिला तो उसने फ़ायरा को 3 बार तलाक़ बोलकर हमेशा के लिए अपनी ज़िन्दगी से अलग कर दिया। फ़ायरा जब किला थाने पहुची तो उसे वहां से दुत्कार कर भगा दिया गया । जिसके बाद फ़ायरा समाजसेवी फ़रहत नक़वी के घर इंसाफ के लिए पहुंची। लेकिन इसी बीच उसके पति को पता चल गया और वो भी फ़रहत के घर पहुच गई।

जहां पर दोनों के बीच जमकर विवाद हुआ।वही इस मामले में केंद्रीय मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी की बहन फ़रहत नक़वी का कहना है कि वो फ़ायरा को इंसाफ दिलाकर रहेगी। वो इस मामले को शासन तक पहुचायेगी। वही इस मामले में एसपी सिटी का कहना है कि उन्हें मामले की जानकारी नही है।  फिलहाल सुप्रीम कोर्ट द्वारा 3 तलाक़ को खत्म किये जाने के बावजूद 3 तलाक़ के मामले लगातार सामने आ रहे है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *