दिल्ली में महंगा हुआ डीजल

diesel

तेल की कीमतों में महंगाई की आग और भड़क गई है। क्रूड की कीमतों में बढ़ोत्‍तरी के चलते पेट्रोल और डीज़ल आज और भी महंगा हो गया है। आज दिल्‍ली में पेट्रोल की कीमत 70.62 रुपए है, जबकि कल पेट्रोल की कीमत 70.53 रुपए थी। ऐसे में एक दिन में ही पेट्रोल 9 पैसे महंगा हो गया है। वहीं 1 जनवरी के भाव से तुलना करें तो तब पेट्रोल की कीमत 69.97 रुपए थी। ऐसे में कल से लेकर आज तक डीजल 15 पैसे महंगा हो गया है।

मंगलवार से दिल्ली में डीजल की कीमत 60.66 रुपये प्रति लीटर पहुंच गई। पेट्रोल के दाम भी 70.53 रुपए प्रति लीटर तक पहुंच गए। मई 2015 के बाद क्रूड ऑयल की कीमत अपने सर्वाधिक स्तर 68 डॉलर प्रति बैरल तक पहुंच गई है। देश में दूसरे बड़े शहरों की बात करें तो मुंबई में पेट्रोल सबसे ज्यादा महंगा यानी 78.42 रुपये और डीजल 64.48 रुपये में मिल रहा है। कोलकाता में पेट्रोल 73.27 जबकि डीजल 63.32 रुपये प्रति लीटर बिक रहा है। उधर चेन्नै में पेट्रोल 73.12 और डीजल 63.92 रुपये में खरीदा जा रहा है।

बजट से पहले तेल की बढ़ती कीमतें सरकार के लिए भी परेशानी का सबक बन गई हैं। बता दें कि चालू वित्तीय वर्ष में क्रूड ऑयल के 55 डॉलर प्रति बैरल रहने का अनुमान जाहिर किया गया था। पेट्रोलियम उत्पादों के दाम में वृद्धि के कारण पेट्रोल-डीजल के दाम बढ़ने के लिए केंद्रीय पेट्रोलियम मंत्री धर्मेंद्र प्रधान राज्य सरकारों को दोष दे रहे हैं। प्रधान ने कहा, ‘डीजल-पेट्रोल की कीमतों में वृद्धि के लिए सिर्फ केंद्र सरकार जिम्मेदार नहीं है। राज्य सरकारें भी अपने स्तर पर टैक्स घटाकर इस दिशा में कदम उठा सकती हैं।’

धर्मेंद्र प्रधान ने कहा, ‘पेट्रोलियम उत्पादों पर टैक्स रियायत का काम सिर्फ केंद्र सरकार का ही नहीं है। पेट्रोल और डीजल पर टैक्स का लाभ राज्य सरकारों को भी मिलता है। केंद्र ने प्रति लीटर 2 रुपए की एक्साइज ड्यूटी घटाई है। अब राज्य सरकारों की जिम्मेदारी है कि वैट कम कर उपभोक्ताओं को राहत पहुंचाएं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *