भ्रष्टाचार और गरीबी के मामले में जनता का मूल्यांकन मोदी के पक्ष में

modi

प्यू रिसर्च सेंटर के सर्वे के अनुसार आंकड़े स्पष्ट तौर पर जनता आज भी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ है  भ्रष्टाचार, गरीबी मिटाने, आतंकवाद और भ्रष्टाचार पर दस में से सात लोगों ने मोदी के काम करने के तरीके पर अपना समर्थन दिया है. इन चार मुद्दों पर लोगों ने मोदी को 10 प्वाइंट तक दिए .प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की लोकप्रियता को घरेलू मुद्दों को डील करने में पब्लिक की संतुष्टि के आधार पर अलग-अलग किया जा सकता है. कांग्रेस समर्थकों के मुकाबले बीजेपी के समर्थकों का अर्थव्यवस्था को लेकर काफी सकारात्मक रूख है. हालांकि देश की दशा दिशा को लेकर बीजेपी और कांग्रेस समर्थक संतुष्ट नजर आते हैं.

विपक्ष लगातार नोटबंदी और GST को चुनावी मुद्दा बनाए हुए हैं और इसे आम नागरिकों को परेशान करने वाला फैसला साबित करने में काफी हद तक सफल भी रहा है. लेकिन प्यू रिसर्च के सर्वे में इसके उलट ही बात सामने आई है. प्यू रिसर्च ने अपनी रिपोर्ट में कहा है, “पिछले साल नवंबर में उच्च मूल्य वाले बैंक नोट को चलन से बाहर करने के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के फैसले के बावजूद आधी से भी कम भारतीय आबादी नकदी की उपलब्धता की कमी को एक बड़ा समस्या मानती है.”

-बेरोजगारी के मुद्दे पर मोदी को 81 प्रतिशत समर्थन मिला है, जबकि कांग्रेस को 46 प्रतिशत.

-भ्रष्टाचार के मुद्दे पर मोदी को 78 प्रतिशत समर्थन मिला, तो कांग्रेस को 45 प्रतिशत,

-वायु प्रदूषण पर 52 फीसद लोग मोदी के साथ हैं, जबकि 21 फीसद कांग्रेस के साथ.

-महंगाई के मुद्दे पर 62 फीसद ने मोदी का पक्ष लिया, 35 फीसद ने कांग्रेस को अपना समर्थन दिया.

-कश्मीर की स्थिति पर 65 प्रतिशत लोग मोदी के साथ हैं, जबकि 40 प्रतिशत ने कांग्रेस को अपना समर्थन दिया.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *