बारिश के कारण खेल में व्‍यवधान ,क्रिकेट प्रेमियों की निगाहें भारतीय टीम के बल्‍लेबाजों पर

virat-kohli@

भारत और श्रीलंका के बीच तीन मैचों की सीरीज का पहला टेस्ट कोलकाता के ईडन गार्डन्स में खेला जा रहा है। भारत का स्कोर जब 74 रनों पर पांच विकेट था, तभी मैच बारिश के चलते रोकना पड़ा। मैदान को कवर्स से ढक दिया गया है। चेतेश्वर पुजारा 47 और साहा 6 रन बनाकर नॉटआउट लौटे हैं। इसी दौरान लंच ब्रेक की भी घोषणा कर दी गई है। लंच ब्रेक खत्म हो चुका है, लेकिन बारिश खत्म नहीं रुकी है। ईडन गार्डन्स को अभी भी कवर करके रखा गया है।

श्रीलंका के खिलाफ पहले टेस्‍ट में भारतीय टीम फिलहाल मुश्किल स्थिति में है. बारिश और खराब रोशनी के कारण पहले दिन केवल 12 ओवर का खेल संभव हो पाया जिसमें टीम इंडिया ने महज 17 रन के स्‍कोर पर तीन महत्‍वपूर्ण विकेट गंवा दिए. टीम ने पहले दिन केएल राहुल (0), शिखर धवन (8) और कप्‍तान विराट कोहली के विकेट गंवाए थे. दूसरे दिन 32.5 ओवर के बाद भारतीय टीम का स्‍कोर पांच विकेट पर 74 रन है. दूसरे दिन आउट होने वाले बल्‍लेबाज अजिंक्‍य रहाणे (4) और रविचंद्रन अश्विन (4) हैं. चेतेश्‍वर पुजारा 47 रन और ऋद्धिमान साहा 6 रन बनाकर क्रीज पर हैं. बारिश के कारण खेल रोकना पड़ा है. इसी स्‍कोर पर लंच घोषित कर दिया गया है.

इससे पहले, मैच में पहले दिन बल्‍लेबाजी करते हुए भारत की शुरुआत निराशाजनक रही और पहली ही गेंद पर केएल राहुल (0) आउट हो गए. उन्‍हें सुरंगा लकमल की गेंद पर विकेटकीपर डिकेवला ने कैच किया. भारतीय टीम को जल्‍द ही शिखर धवन के रूप में दूसर विकेट गंवाना पड़ा. धवन (8 रन, 11 गेंद, एक चौका) को लकमल ने बोल्‍ड किया.पारी के 11वें ओवर में कोहली (0 रन, 11 गेंद) को सुरंगा लकमल ने एलबीडब्‍ल्‍यू कर दिया. अम्‍पायर के निर्णय पर कोहली ने डीआरएस का भी सहारा लिया लेकिन फैसला उनके खिलाफ रहा.

विकेट पतन: 0-1 (राहुल, 0.1), 13-2 (धवन, 6.2), 17-3 (विराट, 10.1), 30-4 (रहाणे, 17.2), 50-5 (अश्विन, 25.6)

मैच में टीम इंडिया फिलहाल मुश्किल में फंसी नजर आ रही है. वैसे, तीन टेस्‍ट की सीरीज में टीम इंडिया को जीत का प्रबल दावेदार माना जा रहा है. इस के पीछे कारण भी हैं. टीम इंडिया ने इस साल जुलाई-अगस्त में श्रीलंका को तीन टेस्ट मैचों की सीरीज में 3-0 के एकतरफा अंतर से हराया था.श्रीलंका के खिलाफ पिछली टेस्‍ट सीरीज की ही तरह टीम इंडिया यदि इस बार भी सीरीज में 3-0 से क्‍लीन स्‍वीप करने में कामयाब रही तो विराट कोहली कप्‍तान के रूप में एक बड़ी उपलब्धि अपने नाम करने में सफल हो जाएंगे. परिस्थितियां ही नहीं, रिकॉर्ड भी भारतीय टीम के पक्ष में है. भारतीय टीम ने अब तक श्रीलंका से अपनी सरजमीं पर एक भी टेस्ट मैच नहीं गंवाया है. एक बार पहले भी भारत, श्रीलंका के खिलाफ स्वदेश में क्लीन स्वीप (1993-94 में) कर चुका है. विराट कोहली की अगुवाई में टीम क्लीन स्वीप करती है तो वह भारत के सबसे सफल कप्तानों की सूची में महेंद्र सिंह धोनी के बाद दूसरे स्थान पर काबिज हो जाएंगे.

कोहली की कप्तानी में भारत ने अब तक 29 टेस्ट मैचों में से 19 में जीत दर्ज की तथा वह धोनी (60 टेस्ट में 27 जीत) और सौरव गांगुली (47 टेस्ट में 21 जीत) के बाद तीसरे नंबर पर हैं. क्‍लीन स्‍वीप की स्थिति में कोहली के खाते में कप्‍तान के रूप में 22 जीत हो जाएंगी और वे सौरव गांगुली को पछाड़ देंगे.

भारत अगर तीन टेस्ट मैचों की सीरीज में श्रीलंका का सूपड़ा साफ करने में सफल रहता है तो उसकी घरेलू सरजमीं पर जीत की संख्या 100 पर पहुंच जाएगी और यह उपलब्धि हासिल करने वाला वह ऑस्ट्रेलिया (234) और इंग्लैंड (212) के बाद केवल तीसरा देश होगा. भारत ने अब तक अपनी सरजमीं पर 261 टेस्ट मैच खेले हैं जिनमें से 97 में उसे जीत और 52 में हार मिली है जबकि 111 मैच ड्रॉ और एक टाई रहा है. अभी स्वदेश में सर्वाधिक जीत के रिकॉर्ड के मामले में भारत चौथे स्थान पर है. दक्षिण अफ्रीका ने अपनी सरजमीं पर 98 जीत दर्ज की हैं लेकिन उसे दिसंबर के आखिरी सप्ताह तक अपनी धरती पर कोई टेस्ट मैच नहीं खेलना है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *