अब अक्षय चले राज्यसभा ?

AkshayKumar-new

एक्टिंग, मॉडलिंग, मार्शल आर्ट , समाज सेवा करने के बाद अब अक्षय कुमार राज्यसभा जाने वाले हैं । ऐसा हम नहीं कह रहे हैं ये खबर सूत्रों से मिल रही है । इस साल राज्यसभा में राष्ट्रपति द्वारा कला, संस्कृति, साहित्य एवं समाजसेवा के क्षेत्र से मनोनीत की जाने वाली 12 हस्तियों में से तीन का कार्यकाल अप्रैल में खत्म हो रहा है। ये तीन हस्तियां हैं- व्यवसायी अनु आगा, सचिन तेंडुलकर तथा फिल्म अभिनेत्री रेखा। अब इस तीनों की सीट भरने के लिए जद्दोजहद शुरू हो गई है। सूत्रों के मुताबिक अब इन सीटों पर जगह पक्की करने के लिए फिल्म इंडस्ट्री और लेखकों के बीच होड़ शुरू हो गई है।

rekha-joy

राज्यसभा सीट के लिए कई है दावेदार सूत्रों की मानें रेखा की सीट को भरने के लिए अक्षय कुमार, जूही चावला और गजेंद्र चौहान का नाम सबसे आगे चल रहा है। हालांकि, इस सीट के लिए सलमान खान के पिता सलीम खान, विवेक ओबेरॉय के पिता सुरेश ओबेरॉय, ऋषि कपूर, जैकी श्रॉफ, वहीदा रहमान, आशा पारेख, मधुर भंडारकर और अनुपम खेर के नामों पर भी चर्चा चल रही है।

गौरतलब है कि, यूपीए सरकार की ओर से एक वजनदार सांसद द्वारा काफी मान-मनौवल के बाद रेखा ने हां कही थी, लेकिन राज्यसभा में जया बच्चन को चिढ़ाने के इरादे से रेखा को उनके सामने बिठाने का उनका आइडिया फ्लॉप साबित हुआ।

akki-new

जबकि बीजेपी राज्यसभा का टिकट अक्षय कुमार को दे सकती है । क्योंकि अक्षय को बीजेपी के कई नेताओं का करीबी माना जाता है। अक्षय महिलाओं के लिए शौचालय निर्माण, प्रधानमंत्री के स्वच्छता अभियान से जुड़े हैं और वो इस काम के लिए काफी वक्त भी देते हैं। इसके साथ ही हाल ही में शहीद जवानों के लिए धनसंग्रह में सक्रियता दिखाकर राष्ट्रवादी होने का बार-बार परिचय दे चुके हैं ।

dimple-kapadia197695-new

अगर कनाडा की उनकी नागरिकता को लेकर कोई परेशानी पेश आती है , तो उनकी सास डिंपल कापड़िया के नाम पर विचार हो सकता है, जो अल्पसंख्यक समुदाय से हैं और गुजरातीभाषी भी।

gajender-new

गजेंद्र चौहान को संघ परिवार का वरदहस्त हासिल है। फिल्म इंस्टिट्यूट पुणे का अध्यक्ष पद संभालने के बाद वह भारी विवादों में रहे लेकिन सरकार उनके पीछे लगातार खड़ी रही। कैग की रिपोर्ट में उनके काम की सराहना और नॉर्थईस्ट में बीजेपी के पक्ष में प्रचार यात्राएं उनके लिए प्लस पॉइंट है।

 

juhi-new

मोबाइल टावरों के रेडिएशन के खिलाफ राष्ट्रव्यापी अभियान छेड़ चुकीं जूही चावला ने ‘गुलाब गैंग’ में पॉलिटिकल लीडर के रूप में दिखाई दी थीं। ठोस गुजरात कनेक्शन वाले अपने पति जय मेहता के समर्थन से जूही क्या अपनी महक राज्यसभा में भी बिखेर पाएंगी, इस पर सबकी नजर है।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *